पालघर पुलिस के दहशत व नक्सलवाद विरोधी दस्ते ने रुपयों की बारिश कराने वाले ढोंगी बाबा को किया गिरफ्तार

पालघर/संतोष नाईक
पालघर जिले के दहशत व नक्सलवाद विरोधी दस्ते के प्रमुख मानसिंह पाटिल को मुखबिर से ऐसी सूचना मिली थी कि विक्रमगढ़ पुलिस स्टेशन क्षेत्र के ़कुर्झे गांव स्थित दत्तमन्दिर के पास एक ढोंगी बाबा दो लाख रुपये लेकर रुपयों की बारिश करने वाला है। सूचना के बाद विक्रमगढ़ पुलिस ने ढोंगी बाबा को गिरफ्तार किया। जबकि उसके 6 साथी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए। जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। विक्रमगढ़ पुलिस आईपीसी की धारा 420 सहित महाराष्ट्र नरबलि व अंधश्रद्धा कानून की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आगे की जांच कर रही है।
पुलिस विभाग से मिली जानकरी के मुताबिक दहशत व नक्सलवाद विरोधी दस्ते के प्रमुख मानसिंह पाटिल को यह जानकरी मिली कि एक ढोंगी बाबा अपने साथियों के साथ विक्रमगढ़ क्षेत्र के ़कुर्झे गांव में नागरिको को पैसो की बारिश करवाने के नाम पर ठगी का शिकार बना रहा है। सूचना मिलने के बाद तेज तर्रार पुलिस अधिकारी मानसिंह पाटिल ने विक्रमगढ़ पुलिस स्टेशन के सीनियर पीआई जयकुमार सूर्यवंशी से संपर्क कर उन्हें पूरी जानकारी दी। उसके बाद ढेकाले गांव के धगड़ीपाडा डोंगरी स्थित दत्त मन्दिर के पास पुलिस टीम ने दबिश देकर नालासोपारा पूर्व पेल्हार गांव निवासी वालक्या नामक भगत को गिरफ्तार किया जबकि उसके चार साथी अंधेरे का फयादा उठा कर भागने में कामयाब हो गए। ढोंगी बाबा के गिरफ्तार होने के बाद पीड़ित चंदू बिस्तूर भुयाल ने शिकायत दर्ज कराईं कि गिरफ्तार वालक्या नामक भगत ने उससे कहा कि दो लाख रुपये दो, मैं जादू टोना से रुपयों की बारिश कर दो लाख के 7 करोड़ कर दूंगा, भुयाल उसकी बातों में आ गया, और उसे दो लाख रुपये दे दिए। भगत अपने साथियों के साथ उसे ़कुर्झे गांव, धगड़ीपाडा डोगरी स्थित दत्त मन्दिर के पास ले गया। वह नींबू मिर्ची व अन्य सामग्री से जादू टोना करने लगा, लेकिन रुपयों की बारिश नही हुई।
इसी बीच पुलिस ने घटना स्थल पर छापेमारी कर बाबा को गिरफ्तार कर लिया। विक्रमगढ़ परिसर में पैसों की बारिश कराने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी साखरे गांव वालों के लोगों से मिली जानकरी के बाद विक्रमगढ़ पुलिस ने साखरे गांव से कुछ दूर मौजूद एक पहाड़ी पर छापेमारी कर एक ढोंगी बाबा के आश्रम से कब्र से निकाली गई लाश, दस मानव खोपड़ियां, नकली नोट, जादू टोना में इस्तेमाल होने वाले कई साहित्य और हथियार बरामद किए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *