18 वर्षीय लड़की की हत्या के आरोपी को उम्र कैद की सजा

ठाणे/धर्मेंद्र तिवारी
आसनगांव में 5 सितंबर 2013 को एक 18 वर्षीय लड़की से रेप करने के बाद उसका मुंह और नाक दबाकर हत्या कर दी गई थी। लड़की आसनगांव से रेल्वे स्टेशन से पटरी के किनारे से सावरोली स्थित घर जा रही थी। पीड़िता की मां ने इसकी शिकायत शहापुर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई थी। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए तत्कालीन पुलिस महानिदेशक संजीव दयाल, कोकण रेंज के विशेष पुलिस महानिरीक्षक सुखविंदर सिंह, ठाणे ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक संग्राम सिंह निशानदार के मार्गदर्शन में केस के जांच अधिकारी प्रशांत वाघुंडे, शहापुर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुनिल वडके ने पांच दिनों के भीतर उक्त बलात्कार और हत्या के मामले को सुलझाते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।
इसमें पुलिस निरीक्षक मेघना बुरांडे, सहायक पुलिस निरीक्षक मुठे, सहयाक पुलिस निरीक्षक अतुल अहेर का महत्वपूर्ण योगदान रहा। इसके बाद कल्याण अतिरिक्त सत्र न्यायालय में मामला चला। इस मामले में हाल ही में न्यायाधीश एन. एन. वाघमारे ने 33 वर्षीय आरोपी को रेप और मर्डर का दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है, साथ ही उसे 5000 रुपए जुर्माना भी भरने का आदेश दिया है। जुर्माना नहीं भरने पर उसे 3 महीने और सजा काटनी पड़ेगी। आरोपी को सजा दिलाने में ठाणे ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक शिवाजी राठोड़, ठाणे ग्रामीण के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजयकुमार पाटिल, शहापुर विभाग के उपविभागीय पुलिस अधिकारी दिलीप सावंत के मार्गदर्शन में शहापुर पलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी व प्रभारी महेश शेट्ये और जिला सत्र न्यायालय कल्याण की सरकारी वकील अश्‍विनी भामरे आदि ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *